Tech Knowledge: आप तो नहीं कर रहे हैं ये गलतियां, डेटा सिक्योरिटी के लिए हो सकती हैं खतरनाक, ऐसे करें इन से बचाव

tech-19-1-167410709716x9.jpg


हाइलाइट्स

मानवीय गलतियों की वजह से कई बार बड़ा नुकसान हो जाता है.
इन गलतियों के कारण आपका डेटा खतरे में पड़ जाता है.
यह गलतियां आम तौर पर सभी लोग करते हैं.

नई दिल्ली. कहा जाता है कि इंसान गलतियों का पुतला होता है. इन हर काम के दौरान कुछ न कुछ गलतियां करता है. कई बार ये गलतियां भारी पड़ती हैं और इनके कारण बड़ा नुकसान हो जाता है. अनजाने में की गई मानवीय गलतियों की वजह से कई बार आपको आर्थिक नुकसान झेलना पड़ता है, तो कई बार आपका महत्वपूर्ण डेटा चोरी हो जाता है. ज्यादातर डेटा उल्लंघनों की घटनाएं इन्ही गलतियों के कारण होती हैं. हालांकि, इन मानवीय गलतियों को खत्म नहीं किया जा सकता है, लेकिन थोड़ी सावधानी बरत कर इन्हें कुछ हद तक बचा जा सकता हैं.

गौरतलब है कि ये गलतियां तब होती हैं, जब आप एक ही काम को बार-बार करते हैं. आम तौर पर इसमें लापरवाही शामिल होती है. इसके अलावा कुछ गलतियां, तब होती हैं जब आप किसी ऐसे काम को कर रहे होतें हैं, जिसके बारे में आपको जानकारी नहीं होती है.

यह भी पढ़ें- AnyDesk: दुनियाभर में दबाकर इस्तेमाल करते हैं लोग, फिर भी इतनी बदनाम क्यों है ये ऐप? समझिए इसका खेल

तो चलिए आज हम आपको ऐसी ही कुछ मानवीय गलतियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आमतौर पर सभी लोग करते हैं और इन्हे हल्के में नहीं लिया जा सकता है. साथ ही आपको यह भी बताएंगे कि आप कैसे इन गलतियों से बच सकते हैं.

कमजोर पासवर्ड
सिक्योरिटी एक्सपर्ट के मुताबिक ज्यादातर लोग अपने सोशल मीडिया अकाउंट या बैंकिग के लिए कमजोर पासवर्ड का इस्तेमाल करते हैं. लोग अक्सर अपने डेट ऑफ बर्थ या ऐसे पासवर्ड का इस्तेमाल करते हैं जैसे आसानी ब्रीच किया जा सकता है. डेटा उल्लंघन के सबसे ज्यादा मामले कमजोर पासवर्ड के कारण ही होते हैं.ऐसे में अगर आप अपने डेटा को सुरक्षित रखना चाहते हैं, तो एक मजबूत पासवर्ड बनाएं. साथ ही अपने पासवर्ड को किसी के साथ शेयर न करें. इसके अलावा अपना पासवर्ड को अपने डिवाइस, गूगल शीट और एक्सेल पर सेव करने से भी बचें.

पुराने सॉफ्टवेयर का उपयोग न करें
पुराने सॉफ़्टवेयर में अक्सर लेटेस्ट सिक्योरिटी फीचर्स नहीं मिलते हैं. इस कारण उसमें सिक्योरिटी ब्रीच करना आसान होता है. कई बार लेटेस्ट सॉफ्टवेयर इस्तेमाल नहीं करने के कारण स्कैमर्स का शिकार बन जाते हैं. ऐसे में अपने डिवाइस को लेटेस्ट अपडेट के साथ अपग्रेड करें. हर अपडेट के साथ आपको लेटेस्ट सिक्योरिटी फीचर्स मिलते हैं.

यह भी पढ़ें- ऑनलाइन लुट गए पैसे? डोंट वरी! डायल करें 4 अंक… मिल जाएंगे वापस!

पर्सनल डेटा की हैंडलिंग में लापरवाही
डेटा उल्लंघन का एक बड़ा कारण पर्सनल डेटा को ठीक से हैंडल नहीं करना भी है, आमतौर पर लोग अपने पर्सनल डेटा को ठीक से हैंडल नहीं करते हैं और अन्य लोगों को उसका एक्सेस दें देते हैं. आम तौर पर लोग दूर जाने से पहले कंप्यूटर को लॉक नहीं करते हैं. इसके अलावा अपनी गोपनीय जानकारी को हाइड नहीं करते हैं. कुछ लोग सार्वजनिक नेटवर्क पर निजी डेटा पब्लिश कर देते हैं. इससे कई बार आपको डेटा आसानी से गलत हाथों में पहुंच जाता है. ऐसे में आपको इन सभी एक्टिविटी को करने से बचना चाहिए. साथ ही आपको ले लिए जरूरी है कि अपने पर्सनल डेटा को ठीक से हैंडल करें.

अनधिकृत एक्सेस प्रदान करना
कई बार लोग बिना सोचे समझे किसी को भी अपने डेटा तक अनधिकृत एक्सेस दे देते हैं. अनधिकृत एक्सेस आपको जोखिम में डालता है. अनधिकृत एक्सेस से आपके पर्सनल डेटा को आसानी से चोरी करके उसे गलत तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है. ऐसे में जरूरी है रकि आप किसी भी शख्स को अपने डिवाइस तक अनधिकृत एक्सेस न दें.

फिशिंग ईमेल ओपन करना
आज कल स्कैमर्स लोगों को ठगने के लिए नए-नए तरीके अपना रहे हैं.ऐसे में वे कई बार फिशिंग ईमेल का सहारा लेते हैं. ईमेल मिलने पर लोग कई बार बिना सोच- विचार किए ही फिशिंग ईमेल ओपन कर लेते हैं या फिर मेल में आए रैंसमवेयर अटैचमेंट को डाउनलोड कर लेते हैं. फिशिंग ईमेल ओपन करना सबसे आम गलतियों में से एक है, यह स्कैमर्स को आपके डेटा तक एक्सेस देता है. इससे बचने के लिए जरूरी है कि आप किसी भी संदिग्ध ईमेल को ओपन न करें और मेल के साथ अटैचमेंट को डाउमलोड न करें.

Tags: Cyber ​​Security, Tech news, Tech News in hindi, Tech Tricks



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this:
Available for Amazon Prime